Q&A
10:03 AM | 30-10-2019

Both my kids are having eye power. How to reduce the power? How can they be without glasses please tell me?


Post as Anonymous User
8 Answers

01:18 PM | 31-10-2019

Hlw 

Excessive use of electronic devices results in Weak eye power in today's generation and our nature provides us many food items which are enough rich in such minerals and vitamins to prevent such problems 

  • Add more vitamins A enrich food items in your children's meal like salade ( carrot, cucumber) 
  • Restrict the excessive use of electronic devices like mobile, TV, computer etc 
  • Drink aawla juice in the morning it's rich in vitamin c 
  • Use cucumber slices on eyes twice in a Day 
  • Yoga like anulom vilom, bhramri, Padmasan, will help 
  • Daily morning walk is good

Thanks 



03:57 PM | 01-11-2019

Daily  practice  of trataka for 15 minutes in a silent place with help  of candle  and in food use bathua, carrots. 



11:10 AM | 01-11-2019

Hello,

Reasons for weak eye power 

  • Lack of proper nutrition. 
  • Excess use of electronic devices like tv ,computer,tablets, laptops,mobiles.
  • Wrong lifestyle. 

What should be done?

 

  • Have foods like carrots and other foods rich in beta carotene which promotes Eye health and corrects vision.
  • Have fresh green leafy vegetables .
  • Have fruits rich in vitamin A like papaya,blueberries, apricots,grapes.
  • Take rest properly as sleep allows our stressed overworked eyes to repair. 
  • Drink a lot of water to be hydrated. 

Physical activity 

  • Rub your palms to generate heat and then apply it to the eyes.
  • Apply cucumber slices to the eyes.
  • Fix the eyesight to a single object atleast 15-20feet away for sometime. 
  • Walk barefoot on grass in the morning. 
  • Take sunrays early in the morning. 
  • Also,do some exercise and yoga to improve blood circulation. 

 

Thank you 



01:19 PM | 31-10-2019

Hi. Please refer to the below resources to understand more about eye-related issues & Nature Cure.

  1. Blog - It’s Time to Eye Five – Take Good Care of Your Eyes Naturally: What to Eat & What to Do

  2. Blog - Taking responsibility for your eye health in this era of technology

Adopting a natural lifestyle will help your friend in reclaiming his health. Wellcure’s Nature - Nurtures program helps you in making the transition, step by step. If you would like to know more, please email us at info@wellcure.com.



10:37 PM | 30-10-2019

Hello Ms. lavanya,

Improving eyesight of young children is more important. Nowadays young children and adolescents eye sight are more prone to eye sight related problems due to their habit of using Kore electronics gadget and wrong. Food habits like improper, irregular diet and wrong lifestyle.

It is necessary to change their lifestyle and diet.

  • Change in diet and lifestyle will helps to improves not only in eye sight helps to improve overall health of your children. 
  • Advise and promote intake of more fresh fruits and vegetables. Especially fruits and vegetables rich in vitamin A,  C. 
  • Advise to take carrot, beetroot, papaya apricots etc. Which are rich source of vitamin A. Helps to improve vision.
  • Green leafy vegetables also rich in note antioxidants and carotenoids which helps to keep the retina healthy. 
  • Advise to consume more nuts, wholegrains and legumes they are rich in omega 3, ,bioflavanoids and micro nutrients like zinc ,selenium etc. Which prevent retinal damage and improves vision. 
  • Avoid non vegetarian 
  • Avoid milk and milk products.
  • Avoid fried,spicy, fatty foods
  • Avoid polished rice, maida and sugar 
  • Avoid tea, coffee and Other canned preserved beverages.

Physical Activities:

  • Advise to do regular physical activities which helps in normal metabolism and absorption of nutrients. 
  • Regular walking, and promoting  playing in grounds helps to avoid playing in smart phones.
  • Playing and Doing physical activities  regularly hels to. Maintain normal healthy weight and Avoid obesity.
  • Eye exercise: advise to do regular eye exercises. Like up and down movements. Right and left ,diagonal movement, rotation on clockwise and anti clockwise. Helps to improve blood circulation and improves vision. 
  • Applying cold compress and mud pack applications helps to Relieves eye strain due to reading. 
  • Restrictions the use of more gadgets and screens like TV, PC etc
  • Advise to take proper sleep.
  • Reading should be in a proper light.  Avoid reading in dim light. 

Namasthe!



06:29 PM | 30-10-2019

Thanks for your suggestion mam.....but my kids are small mam one is 9 yrs Nd other is 12 yrs can I give these juice whatever you suggested is it good for them na mam



06:28 PM | 30-10-2019

नमस्ते ,

आंखों की समस्या वर्तमान युग में बहुत तेजी से बढ़ रही है यह छोटे-छोटे बच्चों को भी अपने आगोश में ले ले रही है, इसका मुख्य कारण विटामिन ए की कमी ,तीव्र प्रकाश में रहना ,मोबाइल ,टेलीविजन, कंप्यूटर का अधिक प्रयोग करना ,भोजन में हरी पत्तेदार सब्जियों का अभाव इत्यादि है ।
 

  • नींद- रात्रि में पर्याप्त नींद लें इससे शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत होती हैं, दूषित पदार्थ बाहर निकल जाते हैं।

 

  •  प्रतिदिन पालक ,अनार या गाजर के जूस का सेवन करें।

 

 

  •  भूख लगने पर ताजे मौसमी फल एवं हरी पत्तेदार सब्जियों को भोजन में 80% प्रयोग करें शरीर को पर्याप्त मात्रा में पोषण देते हैं सभी अंग सुचारू रूप से अपना कार्य करते हैं ।

 

 

  • प्यास लगने पर मिट्टी के घड़े में रखे हुए जल को बैठकर धीरे-धीरे सेवन करें ,इससे शरीर के सभी अंगों को आवश्यक मात्रा में जल की आपूर्ति हो जाती है ।

 

 

  • प्रतिदिन सूर्योदय के समय सूर्य नारंगी रंग का होता है ,आंख बंद करके 1 से 3 मिनट तक खड़े रहें, इससे आंखों में रक्त संचार बढ़ता है।

 

 

  •  प्रतिदिन दोनों हथेलियों को आपस में रगड़ कर जब भी गर्म हो जाए आंखों पर लगाएं।

 

 

प्रतिदिन रात्रि मेंं सोने से पहले पैैर के दोनोंं तलवों में सरसों के तेल की मालिश करेंं।

 

  • प्रतिदिन प्रातः काल ओंस पड़ी हुई घास पर नंगे पैर टहलें।

 

 निषेध- चाय, कॉफी, चीनी, चॉकलेट ,मिठाइयां, बिस्किट, ठंडे पेय पदार्थ, रात्रि जागरण, अधिक मोबाइल, टेलीविजन ,कंप्यूटर का प्रयोग।



12:18 PM | 30-10-2019

हेलो,

शरीर में अधिक अम्ल बनने से शरीर में रक्त संचार में दोष आती है।

आँखों में प्रदाह (inflammation) के वजह से ऐसा हो सकता है।

आँखों की समस्या मिनरल की कमी को दर्शाता है।आँखों का व्यायाम करें।

आँखों को दाएँ से बाएँ और बाएँ से दाएँ करें गर्दन हिलाएँ नहीं। 5 बार करें फिर आँख बंद करें। अब आँखों को ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर करें गर्दन को हिलाना नहीं है। 5 बार करें फिर आँख बंद करें।घड़ी की सीधी दिशा (clockwise) में

और घड़ी की उलटी दिशा (anti clockwise)में घुमाएँ फिर आँखों को बंद कर के आराम दें। 5 बार करें फिर आँख बंद करें। जल्दी जल्दी आँखों को खोलें बंद करें 5 बार फिर आँख को बंद कर के खोले अब त्राटक क्रिया करें।अपने नाक के सीधी दिशा में एक मोमबत्ती जलाएँ। एक हाथ की दूरी रखें अब उस लो को देखें 5 मिनट तक फिर देखें फिर आँख बंद करके आराम करें। ऐसा दिन में दो बार करें। उसके आँख पर गुलाब जल की गीली पट्टी रखें। उसके ऊपर खीरा और धनिया पत्ता का पेस्ट रखें। 20मिनट बाद हटा लें। 

खाना खाने से एक घंटे पहले नाभि के ऊपर गीला सूती कपड़ा लपेट कर रखें या खाना के 2 घंटे बाद भी ऐसा कर सकते हैं।

मेरुदंड (स्पाइन) सीधा करके बैठें। हमेशा इस बात ध्यान रखें और हफ़्ते में 3 दिन मेरुदंड का स्नान करें। मेरुदंड स्नान के लिए अगर टब ना हो तो एक मोटा तौलिया गीला कर लें बिना निचोरे उसको बिछा लें और अपने मेरुदंड को उस स्थान पर रखें। 

सर पर सूती कपड़ा बाँध कर उसके ऊपर खीरा और मेहंदी या करी पत्ते का पेस्ट लगाएँ,नाभि पर खीरा का पेस्ट लगाएँ।पैरों को 20 मिनट के लिए सादे पानी से भरे किसी बाल्टी या टब में डूबो कर रखें।

सब्ज़ी, सलाद, फल, मेवे, आपका मुख्य आहार होगा। आप सुबह खीरे का जूस लें, खीरा 1/2 भाग + धनिया पत्ती (10 ग्राम) पीस लें, 100 ml पानी मिला कर पीएँ। यह juice आप कई प्रकार के ले सकते हैं। पेठे (ashguard ) का जूस लें और कुछ नहीं लेना है। नारियल पानी भी ले सकते हैं। बेल का पत्ता 8 से 10 पीस कर I100ml पानी में मिला कर पीएँ। खीरा 1/2 भाग + धनिया पत्ती (10 ग्राम) पीस लें, 100 ml पानी में मिला कर पीएँ। बेल पत्ता 8 से 10 पीस कर 100 ml पानी में मिला कर लें। दुब घास 25 ग्राम पीस कर छान कर 100 ml पानी में मिला कर पीएँ। सब्ज़ी का जूस आपका मुख्य भोजन है। जो की आपको ज़बर्दस्त फ़ायदा करेगा। 2 घंटे बाद फल नाश्ते में लेना है। फल को चबा कर खाएँ। इसका juice ना लें।

ये जूस सुबह नाश्ते से एक घंटे पहले लें। नाश्ते में फल लें। दोपहर के खाने से एक घंटा पहले हरा जूस लें। खाने में सलाद नमक सेंधा ही प्रयोग करें। नमक की पके हुए खाने में भी बहुत कम लें। सब्ज़ी पकने बाद उसमें नमक डालें। नमक पका कर या अधिक खाने से शरीर में (fluid)  की कमी हो जाती।

सलाद दोपहर 1बजे बिना नमक के खाएँ तो अच्छा होगा क्योंकि नमक सलाद के गुणों को कम कर देता है। सलाद में हरे पत्तेदार सब्ज़ी को डालें और नारियल पीस कर मिलाएँ। कच्चा पपीता 50 ग्राम कद्दूकस करके डालें। कभी सीताफल ( yellow pumpkin)50 ग्राम ऐसे ही डालें। कभी सफ़ेद पेठा (ashgurad) 30 ग्राम कद्दूकस करके डालें। ऐसे ही ज़ूकीनी 50 ग्राम डालें।कद्दूकस करके डालें।कभी काजू बादाम अखरोट मूँगफली भिगोए हुए पीस कर मिलाएँ। लाल, हरा, पीला शिमला मिर्च 1/4 हिस्सा हर एक का मिलाएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी लें।

रात के खाने में इस अनुपात से खाना खाएँ 2 कटोरी सब्ज़ी के साथ 1कटोरी चावल या 1रोटी लें। रात 8 बजे के बाद कुछ ना खाएँ, 12 घंटे का (gap) अंतराल रखें। 8बजे रात से 8 बजे सुबह तक कुछ नहीं खाना है।

एक नियम हमेशा याद रखें ठोस(solid) खाने को चबा कर तरल (liquid) बना कर खाएँ। तरल  को मुँह में घूँट घूँट पीएँ। खाना ज़मीन पर बैठ कर खाएँ। खाते वक़्त ना तो बात करें और ना ही TV और mobile को देखें।ठोस  भोजन के तुरंत बाद या बीच बीच में जूस या पानी ना लें। भोजन हो जाने के एक घंटे बाद तरल पदार्थ  ले सकते हैं।

जानवरों से उपलब्ध होने वाले भोजन वर्जित हैं।

तेल, मसाला, और गेहूँ से परहेज़ करेंगे तो अच्छा होगा। चीनी के जगह गुड़ लें।

हफ़्ते में एक दिन उपवास करें। शाम तक केवल पानी लें, प्यास लगे तो ही पीएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी और रात 8 बजे सलाद लें।

धन्यवाद।

रूबी

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)

 


Wellcure
'Come-In-Unity' Plan