Loading...

Q&A
08:29 PM | 26-11-2020

I have hormonal imbalance. Pls suggest how to cure it?


The answers posted here are for educational purposes only. They cannot be considered as replacement for a medical 'advice’ or ‘prescription’. ...The question asked by users depict their general situation, illness, or symptoms, but do not contain enough facts to depict their complete medical background. Accordingly, the answers provide general guidance only. They are not to be interpreted as diagnosis of health issues or specific treatment recommendations. Any specific changes by users, in medication, food & lifestyle, must be done through a real-life personal consultation with a licensed health practitioner. The views expressed by the users here are their personal views and Wellcure claims no responsibility for them.

Read more
Post as Anonymous User
3 Answers

11:56 AM | 03-12-2020

Hello Bhavani,

Hormonal imbalances result when we disturb our circadian rhythm and don't follow a correct lifestyle. Disturbances in hormonal balance also lead to various health problems like thyroid, pcod, anxiety, etc. It also disturbs the metabolism and results in irregular menstrual cycles. 
For a healthy body and mind, it is very essential to have a proper hormonal balance.
This can be cured by adopting a natural lifestyle and by making some changes in the diet.


Diet

  • Start the day with 3 to 4 glasses of warm water on an empty stomach. This will help to flush out the toxins out of the body. 
  • Have a breakfast which is light in nature and also easy to digest. Have a bowl of sprouts in your breakfast.
  • Drink freshly prepared homemade fruit juices. 
  • Eat soaked raisins and other dry fruits to get the easily absorbable nutrients. 
  • Drink coconut water. 
  • Use cold-pressed oil instead of refined oils for cooking. 

Foods to avoid- 

  • Avoid refined oils, refined grains, and refined sugars.
  • Avoid dairy products and animal foods. 
  • Avoid tea, coffee and other caffeinated drinks. 
  • Avoid carbonated drinks. 
  • Avoid preserved, processed, packaged, oily, and spicy foods. 

Exercise 

Exercising regularly is very important for good metabolism and improved blood circulation.

  • Start the day with a brisk morning walk of at least 30min. 
  • Perform 12 sets of suryanamaskar daily.
  • Do ujjayi pranayam regularly for 5min. It is very effective in curing thyroid disorders. 
  • Do paschimottan asana, trikona asana, gomukha asana and padahasta asana. 

Sleep

Good quality sleep is essential for a healthy body and mind. It affects our immunity and also hormonal balance. So, take good quality sleep for at least 7-8hours daily. Sleep early at night at around 10 pm and also wake up early in the morning at around 6 am. 

Avoid the use of electronic devices 1hour before sleeping. 

Thank you 



11:58 AM | 03-12-2020

Dear Bhavani,

Thanks for sharing your concern with us! We would like to draw your attention to the Nature Cure perspective on hormonal imbalance.

Nature Cure believes that the root cause of most diseases/health conditions is Toxaemia- the accumulation of toxins within the body.  While some toxins are an output of metabolism, others are added due to unnatural lifestyle- wrong food habits, lack of rest and stress. Nature has equipped us with the measures of eliminating the toxins on a regular basis - through breathing, stool, urine, sweat, mucus depositions in nose, eyes and genitals etc. Whenever there is toxic overload due to insufficient or faulty elimination our body tries to throw out the toxins in the form of Flu, Loose-motions, cough, cold, fever, skin rashes and acute pain. Defying the body’s demand for rest and/ or suppressing the discomforting symptoms by quick-fixes like medicines, leads to an imbalance in the body. If there is a toxic overload on the body, it can prevent the hormones from performing their routine functions.

One can reverse this state of imbalance by getting back in sync with the natural laws of living. Our Natural Health Coach can look into your routine in a more comprehensive way and give you an action plan. Shifting to a natural lifestyle will also help you deal with all your other health issues. Let us know if you are interested, this coaching will be for a fee. You can explore our  Natural Health Coaching Program for the same.  

Wish you all the best for your good health!

Regds

Team Wellcure



11:56 AM | 03-12-2020

हेलो,
कारण - शरीर में अत्यधिक बढ़ा हुआ के कारण हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाताा है। पाचन तंत्र को स्वास्थ्य करते ही हार्मोन संबंधित विकार ठीक हो जाएगा। प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति के अनुसार सभी बीमारी का मूल कारण खराब पाचन तंत्र है। पाचन तंत्र को स्वास्थ्यथ्य कर पूर्ण स्वास्थ्य लाभ उठा सकते हैं।
जीवन शैली- 1. सुबह खाली पेट हर्बल जूस लें।
सफेद पेठ का जूस, दुर्वा ग्रास का जूस, बेलपत्र का जूूस, banana stem का जूस, खीरे काा जूस, नारियल पानी सुबह खाली पेट पिए। 

2. सूर्य के रोशनी शरीर में लेट कर लगाएं। सिर और आंख को सूती कपड़ा से ढक लें। ऐसा 20 मिनट करें। सूर्य उदय के एक घंटे बाद का धूप या सूर्य अस्त के एक घंटे 1 का धूप बहुत अच्छा होता मगर धूप यदि सिर और आंख को ढक कर लें तो किसी भी वक़्त धूप ले सकते हैं।

3. नाश्ते में केवल मौसम के फल केवल एक प्रकार के लें।

4. दोपहर में सलाद बिना नमक नीबू के लें।

सलाद को अकेले पूर्ण खुराक के रूप में लें। उसके साथ या बाद में पका हुए भोजन को ग्रहण ना करें। सलाद का पाचन समय 5 घंटा है तो पांच घंटे के बाद रात का भोजन लें।

रात के भोजन में 70% सब्जी डालें और 30% अनाज या millet लें। पका हुआ भोजन 35 साल से ऊपर के सभी व्यक्ति को दिन में केवल एक बार पका हुआ भोजन का सेवन करना चाहिए। यदि स्वास्थ में किसी प्रकार का कमी हो तो एक वक़्त का पका हुआ भोजन भी नहीं लेना उत्तम होता है। ये जीवन शैली में अनिवार्य रूप से उतारने से स्वास्थ उत्तम होता है।

5. पानी को या जूस को मुंह में घूंट भर कर रखे फिर घूंट को अंदर लें इससे आपका मुंह का लार जूस में मिल कर सुपाच्य प्रोटीन का निर्माण करता है जो कि शरीर की जरूरत है।

फल या सलाद को खूब चबा कर खाएं। ऐसा करने से शरीर 

को इन के पोषक तत्व ठीक प्रकार से मिल पाते हैं। फल और सलाद ठीक प्रकार से चबाने से हमारा लार उसके साथ मिलकर के कई विटामिन और कई मिनरल्स खुद से क्रिएट करता है जो कि हमारे शरीर का अहम घटक है।

6. हफ्ते में एक दिन उपवास करने से शरीर को मौका मिल जाता है स्वता ही पूरे शरीर की आंतरिक सफाई का जो कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अहम भूमिका निभाता है।

उपवास का मतलब यह है कि आपका 2 बार का भोजन ना लें जैसे सुबह का नाश्ता दोपहर का खाना ना लेकर सीधा शाम को ले या हो सके तो पूरे दिन का उपवास रखें शाम को भी कुछ ना ले। प्यास लगने पर पानी घूंट भर कर रखें फिर अंदर गट करें।  पानी पेट भरने के लिए ना पीएं केवल प्यास बुझाने के लिए,  मुंह में घूंट भरते ही दो से तीन घूंट आपके प्यास को बुझा देगा।

7. उपवास के अगले दिन किसी प्राकृतिक चिकित्सक के देख रेख में टोना लें। जिससे आँत की प्रदाह को शांत किया जा सके। एनिमा किट मँगा लें। यह किट ऑनलाइन मिल जाएगा। इससे 200ml पानी गुदाद्वार से अंदर डालें और प्रेशर आने पर मल त्याग करें। ऐसा दिन में दो बार करना है अगले 21 दिनों के लिए। ये करना है ताकि शरीर में मोजुद विषाणु निष्कासित हो जाये। इसके बाद हफ़्ते में केवल एक बार लेना है उपवास के अगले दिन। टोना का फ़ायदा तभी होगा जब आहार शुद्धि करेंगे।

धन्यवाद।

रूबी, 

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका व मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)


Scan QR code to download Wellcure App
Wellcure
'Come-In-Unity' Plan











Whoops, looks like something went wrong.