Loading...

Welcome to Wellcure: We help you live a disease free and medicine free life

Q&A
10:32 AM | 10-12-2020

My sister's age 22, she is suffering from irregular periods, unwanted facial hair, acne, headache. Investigation done, Usg and hormones are normal. What are causes and treatment?


The answers posted here are for educational purposes only. They cannot be considered as replacement for a medical 'advice’ or ‘prescription’. ...The question asked by users depict their general situation, illness, or symptoms, but do not contain enough facts to depict their complete medical background. Accordingly, the answers provide general guidance only. They are not to be interpreted as diagnosis of health issues or specific treatment recommendations. Any specific changes by users, in medication, food & lifestyle, must be done through a real-life personal consultation with a licensed health practitioner. The views expressed by the users here are their personal views and Wellcure claims no responsibility for them.

Read more
Post as Anonymous User
2 Answers

11:44 AM | 14-12-2020

Hello Rajvindar,

Irregular periods, unwanted facial hair, acne headache all these problems are inter-related. A disturbed circadian rhythm results in hormonal imbalance, poor blood circulation and disturbed metabolism which results in all such health issues.
It is very important to follow the correct lifestyle and correct eating habits for a correct hormonal balance and circadian rhythm. 

Diet to take

  • Start the day with 2-3 glasses of warm water. This will help to flush out the toxins out of the body. 
  • Eat only plant-based natural foods. 
  • Take overnight soaked raisins in the morning. 
  • Drink freshly prepared homemade fruit juices like pomegranate juice, beetroot juice. This will provide the body with easily absorbable nutrients. 
  • Drink coconut water. 
  • Include green leafy vegetables, salads, sprouts to your diet.

Foods to avoid

  • Avoid processed foods and packaged foods.
  • Avoid tea, coffee, and other caffeinated drinks. 
  • Avoid dairy products as they are not meant for the human digestive system and hence facilitates the accumulation of toxins in the body. 
  • Avoid animal products. 
  • Avoid carbonated drinks. 

Physical activity 

Exercising is very important to improve the body's metabolism and blood circulation. 

  • Do 12 sets of suryanamaskar daily.
  • Do bhujanga asana, trikona asana, vriksha asana, tada asana.
  • Take a short morning walk of at least 30min daily. 
  • Take sunlight in the morning. 

Meditation and pranayam 

Meditation and Pranayam, both help to relieve stress. The vibrations that are generated during the pranayam heal many health issues along with relieving stress.

So, practice meditation for 20 minutes daily.

Perform bhramri pranayam, ujjayi pranayam.

Sleep 

A correct sleep cycle is very important to maintain the circadian rhythm. Hence, take 7-8hours of sleep regularly. Sleep early at night and also wake up early in the morning. 

Thank you 

 



11:44 AM | 14-12-2020

हेलो,

कारण - शरीर में अम्ल की अधिकता होने के कारण इरेगुलर पीरियड होता है। मूल कारण खराब हाजमा और लंबे समय तक का कब्ज है।

त्वचा और  बाल हमारे शरीर का सहज ज़रिया है अम्ल (acid) को प्रतिबिम्बित करने का। खराब हाजमा के कारण अमल की अधिकता होती। शरीर (elimination) निष्कासन की प्रक्रिया में लगा है। हम उसको आहार शुद्धि से मदद करें।

जीवन शैली- 1. सुबह खाली पेट हर्बल जूस लें। गहरे हरे रंग के पत्तों का जूस बहुत ही फायदेमंद है 25 से 30 ग्राम पालक के पत्ते या धनिया के पत्ते या पुदीना के पत्तों को पीसकर उसमें 200 ml पानी मिलाएं। खाली पेट इसको पिए यह काफी लाभकारी है इसके जगह पर दूब घास, बेलपत्र, का जूस भी बहुत लाभकारी है।

2. सूर्य के रोशनी शरीर में लेट कर लगाएं। सिर और आंख को सूती कपड़ा से ढक लें। ऐसा 20 मिनट करें। सूर्य उदय के एक घंटे बाद का धूप या सूर्य अस्त के एक घंटे 1 का धूप बहुत अच्छा होता मगर धूप यदि सिर और आंख को ढक कर लें तो किसी भी वक़्त धूप ले सकते हैं।

3. नाश्ते में केवल मौसम के फल केवल एक प्रकार के लें।

4. दोपहर में सलाद बिना नमक नीबू के लें।

सलाद को अकेले पूर्ण खुराक के रूप में लें। उसके साथ या बाद में पका हुए भोजन को ग्रहण ना करें। सलाद का पाचन समय 5 घंटा है तो पांच घंटे के बाद रात का भोजन लें।

रात के भोजन में 70% सब्जी डालें और 30% अनाज या millet लें। पका हुआ भोजन 35 साल से ऊपर के सभी व्यक्ति को दिन में केवल एक बार पका हुआ भोजन का सेवन करना चाहिए। यदि स्वास्थ में किसी प्रकार का कमी हो तो एक वक़्त का पका हुआ भोजन भी नहीं लेना उत्तम होता है। ये जीवन शैली में अनिवार्य रूप से उतारने से स्वास्थ उत्तम होता है।

5. पानी को या जूस को मुंह में घूंट भर कर रखे फिर घूंट को अंदर लें इससे आपका मुंह का लार जूस में मिल कर सुपाच्य प्रोटीन का निर्माण करता है जो कि शरीर की जरूरत है।

फल या सलाद को खूब चबा कर खाएं। ऐसा करने से शरीर 

को इन के पोषक तत्व ठीक प्रकार से मिल पाते हैं। फल और सलाद ठीक प्रकार से चबाने से हमारा लार उसके साथ मिलकर के कई विटामिन और कई मिनरल्स खुद से क्रिएट करता है जो कि हमारे शरीर का अहम घटक है।

6. हफ्ते में एक दिन उपवास करने से शरीर को मौका मिल जाता है स्वता ही पूरे शरीर की आंतरिक सफाई का जो कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अहम भूमिका निभाता है।

उपवास का मतलब यह है कि आपका 2 बार का भोजन ना लें जैसे सुबह का नाश्ता दोपहर का खाना ना लेकर सीधा शाम को ले या हो सके तो पूरे दिन का उपवास रखें शाम को भी कुछ ना ले। प्यास लगने पर पानी घूंट भर कर रखें फिर अंदर गट करें।  पानी पेट भरने के लिए ना पीएं केवल प्यास बुझाने के लिए,  मुंह में घूंट भरते ही दो से तीन घूंट आपके प्यास को बुझा देगा।

7. उपवास के अगले दिन किसी प्राकृतिक चिकित्सक के देख रेख में टोना लें। जिससे आँत की प्रदाह को शांत किया जा सके। एनिमा किट मँगा लें। यह किट ऑनलाइन मिल जाएगा। इससे 200ml पानी गुदाद्वार से अंदर डालें और प्रेशर आने पर मल त्याग करें। ऐसा दिन में दो बार करना है अगले 21 दिनों के लिए। ये करना है ताकि शरीर में मोजुद विषाणु निष्कासित हो जाये। इसके बाद हफ़्ते में केवल एक बार लेना है उपवास के अगले दिन। टोना का फ़ायदा तभी होगा जब आहार शुद्धि करेंगे।

धन्यवाद।

रूबी, 

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका व मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)


Scan QR code to download Wellcure App
Wellcure
'Come-In-Unity' Plan